Friday, May 3, 2019

जल्द वायु सेना को मिलेंगे अमेरिका के ये दो हेलीकॉप्टर, जानें कहां होगी तैनाती

Chinook
Apache-Chinook

भारतीय वायु सेना को जल्द ही अमेरिका के दो खास हेलीकॉप्टर मिल जाएंगे। अपाचे और चिनूक नाम के ये हेलीकॉप्टर अपनी कैटेगरी में सबसे अच्छे माने जाते हैं। वायु सेना ने इन्हें खरीदने के लिए अमेरिकी कंपनी बोइंग से डील की थी। भारत अमेरिका से 22 अपाचे और 15 चिनूक हेलीकॉप्टर खरीद रहा है। अपाचे और चिनूक हेलीकॉप्टर का पहला खेप बनकर तैयार हो गया है। तीन माह में यह भारत आएगा। इन्हें पठानकोट और चंडीगढ़ के एयरबेस पर तैनात किया जाएगा।

 Apache
Apache

अपाचे हेलीकॉप्टर को भारी बमबारी के लिए बनाया गया है। 


क्यों खास है अपाचे?

वायुसेना ने बोइंग कंपनी से अटैक हेलीकॉप्टर AH-64E अपाचे खरीदने का सौदा किया था। यह हेलीकॉप्टर हवा में उड़ते टैंक की तरह है। इसका इस्तेमाल दुश्मन पर हवाई हमला करने और जमीन पर जंग लड़ रहे अपने सैनिकों को क्लोज एयर सपोर्ट देने के लिए होता है। अमेरिकी सेना इसका इस्तेमाल इराक की जंग में कर रही है।

अपाचे में भारी बमबारी करने के लिए तोप लगे हैं। इसके साथ यह कई तरह के हवा से जमीन पर मार करने वाले रॉकेट और मिसाइल दाग सकता है। इस हेलीकॉप्टर को भारी गोलीबारी के बीच टिके रहने के लिए बनाया गया है। इसके केबिन को बुलेटप्रूफ बनाया गया है। इसके साथ ही हेलीकॉप्टर के अहम भाग को भी बुलेटप्रूफ बनाया गया है।

Chinook
Chinook

सामान और सैनिकों को ढोता है चिनूक

वायू सेना को मिलने वाला दूसरा हेलीकॉप्टर CH-47F चिनूक है। यह एक ट्रांसपोर्ट हेलीकॉप्टर है। इसका काम सैनिकों और सेना ने सामान को जंग के मैदान में पहुंचाना है। अधिक भार उठाने की क्षमता पाने के लिए इसमें दो मेन रोटर लगे हैं। यह तोप और सेना की गाड़ियों को भी ढो सकता है।

No comments:

Post a Comment